दूसरी लहर को कंट्रोल करने के लिए राजस्थान सरकार सख्त

Gehlot government made this plan to stop child marriage on Akhtij
Spread the love

जयपुर। राजस्थान में कोरोना के बढ़ रहे मामलों के बाद सीएम अशोक गहलोत ने फिर चेताया है कि कोरोना की दूसरी लहर को काबू करने के लिए सरकार और अधिक सख्त कदम उठा सकती है। उन्होंने कहा कि इसमें सभी लोगों को सहयोग करना पड़ेगा। कोरोना के रिकॉर्ड मामले सामने आने के बाद गहलोत ने सोमवार आधी रात तक कोरोना कोर गु्रप, डॉक्टरों, जिलों के कलेक्टर्स और पुलिस अधीक्षक के साथ ओपन बैठक की। सवा दो घंटे चली लाइव वर्चुअल बैठक में मुख्यमंत्री ने कोरोना रोकथाम पर अफसरों और डॉक्टर्स के सुझाव लिए। गहलोत ने अफसरों से कहा कि राजस्थान में एक दिन में 2429 कोरोना पॉजिटिव केस आना और देश में आंकड़े का एक लाख को पार कर जाना बहुत चिंताजनक है। प्रदेश में एक ही दिन में संक्रमितों की संख्या में 40 प्रतिशत की बढ़ोतरी के ये आंकड़े डरावने हैं। इनमें और भी बढ़ोतरी हो सकती है। सीएम ने कहा कि जहां भी कोरोना के केस ज्यादा मिलेंगे वहां पर नाइट कफ्र्यू रात आठ बजे से ही लगाने को कहा है। जोधपुर में इसकी शुरुआत हो चुकी है। उन्होंने पुलिस और प्रशासन को कोरोना गाइडलाइन का सख्ती से पालन करवाने के लिए कहा है। सार्वजनिक जगहों पर मास्क पहनने और सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बरतने पर जुर्माना के साथ दुकान या प्रतिष्ठान को 3 दिन के लिए सील किया जाएगा। गहलोत ने कहा कि कोरोना से संक्रमण के मुकाबले की भावना से काम करते हुए हमें सख्ती के साथ-साथ प्यार और समझाइश से जन अभियान की तर्ज पर हेल्थ प्रोटोकॉल का पालन कराना जरूरी है। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों से सैम्पलिंग और ट्रीटमेंट के लिए मौजूदा से 10 गुना अधिक संसाधन की तैयारी रखने को भी कहा है।

Load More Related Articles
Load More By alertbharat
Load More In राजस्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *