एक फैसले से लोगों ने बदल दी शादियों की तारीखें

People changed the dates of weddings with a decision
Spread the love

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना ने सबकुछ तबाह कर के रख दिया है। दिल्ली में सोमवार तक जल्द शादी के बंधन में बंधने वाले जोड़े विवाह की तैयारियों को लेकर काफी उत्साहित थे। वही पर शादी के बंधन में बंधने वाले नए जोड़े भी टेंसन में आ गए है। शादियों वाले परिवार दिल्ली को छोड कर अब उत्तरप्रदेश में मैरिज गार्डन बुक करवाने लगे है। इसका कारण है दिल्ली में लगा नाइट कफ्र्यू। कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर राष्ट्रीय राजधानी में लगे रात्रिकालीन कफ्र्यू ने उन्हें पेरशानी में डाल दिया है और अब वे एक बार फिर शादी की तारीख, समारोह स्थल और उसके समय पर विचार करने लगे हैं। दिल्ली सरकार ने शहर में 30 अप्रैल तक रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक का रात्रिकालीन कफ्र्यू लगा दिया है। जिससे पहले से ही कोरोना वायरस के कारण प्रभावित विवाह संबंधी उद्योग के और प्रभावित होने की आशंका है। आलम यह है कि लोगों ने दिल्ली से लगे नोएडा और गुडग़ांव में समारोह स्थल ढूंढने शुरू कर दिए हैं। पारस चुग और अभिषेक की शादी 28 अप्रैल की है और अब वह रात की जगह दिन में शादी करने पर विचार कर रहे हैं।
मेहमानों को नाईट कफ्र्यूू में छूट नही
रात्रिकालीन कफ्र्यू के फैसले का शहर में हो रही शादियों पर काफी असर पड़ा है। जिनमें शिरकत करने वाले लोगों की संख्या सरकार ने मार्च अंत में पहले ही 200 से घटाकर 100 कर दी थी। दिल्ली सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि दूल्हा, दुल्हन और उनके करीबी रिश्तेदारों को जिला मजिस्ट्रेट से ई-पास लेना होगा। लेकिन किसी अन्य मेहमान को रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक कफ्र्यू के दौरान छूट नहीं दी जाएगी।

Load More Related Articles
Load More By alertbharat
Load More In राष्ट्रीय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *